एक गुज़ारिश

हम हारते कैसे नहींजहाँ जज बनकर वक़्त बैठा होऔर वकील बनकर नसीब,वहाँ हार तो निश्चित थी ।जानते हो ना !ऐसी अदालत में नियतिबड़े-बड़े हथकण्डे अपनाती

Read More

देश का सौरभ रहो तुम, देश का गौरव बनो तुम

देश का सौरभ रहो तुम, देश का गौरव बनो तुम,आधुनिक तकनीक थामे, देश के प्रहरी बनो तुम .देश का सौरभ रहो तुम………….. अपना निहत्था वीर

Read More

तब तकलीफ होती है..

जब अपने, आंखों के सामनेहोते हुए भी दूर हो जाते हैंतब तकलीफ होती है जब प्यार की जगहपैसों की कीमत बढ़ जाती हैतब तकलीफ होती

Read More

आस्था और विश्वास

न करूं परिभाषित “आस्था” को कभीन “विश्वास” पर ही कोई सवाल करना।हृदय में जोत जलाई है जो तुमनेमौन से रुठकर, न उस पर बवाल करना।।दिया

Read More

वजूद

आ, आज, एक बार फिरमिल बैठते हैं,कुछ तू हमें सुनाकुछ हम तुझे सुनाते हैं,खुशियों – गमों कोएक दूजे से साझा कर लेते हैंमेरी खुशियों की

Read More

भूले बिसरे गाँव के लम्हें

वह गाँव आज भी बसता है मेरे भीतर, उसी गलियारों में बीता सुनहरा बचपनघर की दहलीज को लांघता अल्हड़पन, माँ की हिदायतों को न मानता

Read More

जिन्दगी का सफ़र

कदर करो जिन्दगी कीजिन्दगी नही मिलेगी दुबाराक्या खोया,क्या पायाये जिन्दगी मे कोई नही जान पायाजिन्दगी मे चलते-चलतेथक ना जाना दोस्तोकदर करो इस जिन्दगी कीथाम लो

Read More