मैं एक किरदार अनेक

मैं एक किरदार अनेक

मैं हूं एक और किरदार अनेक निभाती हूं

टूटे हुए फेवरेट खिलौनों को जोड़कर बिना डिग्री की इंजीनियर बन जाती हूं

मैं हूं एक और किरदार अनेक निभाती हूं


छोटी सी चोट लगने पर या तो’ फू ‘कर कर या ‘चींटी मर गई’ कह कर बच्चों को बहलाती हूं, कभी-कभी मैं उनकी नर्स भी बन जाती हूं

जब रखती हूं घर का हिसाब इन terms of profit और loss,कसम से banker वाली फीलिंग आती है boss

You tube पर देखकर नई नई डिश बनाती हूं टीवी की तो नहीं पर घर की मास्टर शेफ कहलाती हूं

Interior decorator की नहीं की है पढ़ाई पर यह जानती हूं कि cream सोफे के साथ Brown पर्दे अच्छे लगते हैं भाई|

कभी friend बनकर बच्चों की bestie बन जाती हूं और गलती करने पर lecturer की तरह lecture भी पिलाती हूं|

Driver भी हूं caretaker भी ….teacher भी हूँ और ,counselor भी ….कभी housewife तो कभी homemaker कहलाती हूं,मैं हूं एक और किरदार अनेक निभाती हूं|

Leave a Reply

%d bloggers like this: